Success Story Of Wow Momo : इस व्यक्ति ने केवल मोमोज बेचकर 2000 करोड़ रुपये की कंपनी कैसे बनाई! जाने पूरी कहानी

Success Story Of Wow Momo : भारतीय स्टार्टअप्स की दुनिया में, हम हर दिन सफलता की कहानियों के बारे में सुनते हैं, और आज हम आपके लिए स्टार्टअप की दुनिया से एक ऐसी सफलता की कहानी लेकर आए हैं जो आपको सचमुच प्रेरित करेगी।

भारत में, हमारे पास चुनने के लिए विभिन्न प्रकार के व्यंजन हैं, जैसे कि चीनी भोजन, दक्षिण भारतीय भोजन, आदि। आपने चीनी भोजन में मोमोज के बारे में सुना होगा, और इन दिनों, शहर के हर कोने में मोमोज बेचे जा रहे हैं क्योंकि लोग मोमोज खाना पसंद कर रहे हैं।

Success Story Of Wow Momo
Success Story Of Wow Momo

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि कोई मोमोज बेचकर कितना पैसा कमा सकता है? यदि नहीं, तो हम आपको एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताते हैं जिसने केवल मोमोज बेचकर भारतीय स्टार्टअप की दुनिया में ₹2000 करोड़ की कंपनी बनाई है।

हम बात कर रहे हैं सागर दरयानी की, जिन्होंने Wow Momo नामक कंपनी की स्थापना की। इस लेख में, हम Success Story Of Wow Momo की सफलता की कहानी पढ़ेंगे और सीखेंगे कि कैसे इस व्यक्ति ने सिर्फ मोमोज बेचकर ₹2000 करोड़ की कंपनी बनाई।

केवल ₹30,000 की पूंजी से शुरू किया था बिज़नेस

Success Story Of Wow Momo
Success Story Of Wow Momo

सागर दरयानी ने 29 अगस्त 2008 को कोलकाता में Wow Momo की शुरुआत की थी। शुरुआत में, सागर ने इस मोमोज का बिजनेस एक छोटे से स्टॉल से शुरू किया था जिसमें उन्होंने केवल ₹30,000 का निवेश किया था। सागर ने इस बिजनेस को शुरू करने की योजना तब बनाई थी जब वे कॉलेज के अंतिम वर्ष में थे, और उस समय उनकी उम्र केवल 21 वर्ष थी।

शुरुआती दिनों में, न तो सागर और न ही उनके दोस्त बिनोद होमोगाई, जिन्हें उन्होंने बिजनेस में शामिल किया था, उन्हें मोमोज बनाना नहीं आता था। इसलिए, उन्होंने अपने स्टॉल पर मोमोज बनाने के लिए एक कुक को काम पर रखा और अपना बिज़नेस सुरु किया ।

सुरुवाती दिनों में किसी ने नहीं किया समर्थन

जब सागर ने अपने पिता के साथ इस मोमोज का बिजनेस शुरू करने का विचार साझा किया, तो वह इसके लिए बिल्कुल तैयार नहीं थे, और परिवार में किसी ने भी उनका समर्थन नहीं किया। सागर के पिता ने उन्हें यह कहते हुए ताना भी मारा, “अब मेरा बेटा मोमोज बेचेगा!”

परिवार से समर्थन की कमी और इस तरह की चुनौतियों का सामना करने के बावजूद, सागर ने अपने दोस्त बिनोद के साथ मिलकर अंततः मोमोज का स्टॉल शुरू किया।

किन किन चुनौतियों का सामना करना पड़ा था सागर को

Success Story Of Wow Momo
Success Story Of Wow Momo

जब सागर और बिनोद ने अपना वाह मोमो स्टॉल शुरू किया, तो उन्हें शुरुआत में ज्यादा मुनाफा नहीं हुआ। वास्तव में, पहले दो वर्षों तक, उन्होंने अपने स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिए धन प्राप्त करने के लिए संघर्ष किया।

हालांकि, उन्होंने व्यवसाय को बढ़ाने के अपने प्रयास जारी रखे। उन्होंने कंपनी के नाम के साथ टी-शर्ट बनाकर अपने कारोबार का प्रचार करना शुरू किया, जिसे वे हर जगह पहनते थे ताकि अपने कारोबार के बारे में प्रचार कर सकें।

उन्होंने अपने स्टाल पर आने वाले ग्राहकों को मुफ्त मोमोज चखने की भी पेशकश की, जिससे यह सुनिश्चित हुआ कि लोग मुफ्त में मोमोज के स्वाद का अनुभव कर सकें। इसके अतिरिक्त, उन्होंने अपने स्टाल पर अधिक ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए तंदूरी मोमोज, फ्राइड मोमोज आदि जैसे विभिन्न प्रकार के मोमोज पेश किए।

आज, Wow Momo एक छोटे से स्टॉल से एक पूर्ण विकसित आउटलेट में बदल गया है। कुछ समय बाद, Wow Momo ने न केवल भारत भर में बल्कि दुनिया भर में अपने आउटलेट्स की फ्रेंचाइजी देना शुरू कर दिया। वर्तमान में, Wow Momo के भारत भर में लगभग 26 राज्यों में उनके 800 से ज्यादा आउटलेट खुल चुके हैं।

आज Wow Momo बन चुकी है करोडो की कंपनी

Wow Momo आज के समय में 6 लाख से अधिक मोमोज डेली के बेचता है। Wow Momo कंपनी को लगभग $68.5 मिलियन का फंडिंग प्राप्त हुआ है, जिसके परिणामस्वरूप कंपनी का मूल्यांकन ₹2000 करोड़ पार कर गया है।

Wow Momo की सफलता और उसके संस्थापक सागर दरयानी ने यह इसलिए हासिल किया क्योंकि उन्होंने इस काम को छोटा नहीं माना और लोगों के बारे में सोचने में समय बर्बाद नहीं किया कि वे उनके बारे में क्या सोचेंगे।

वाह मोमो सफलता की कहानी का अवलोकन

– लेख का शीर्षक : वाह मोमो सफलता की कहानी
– स्टार्टअप का नाम : वाह मोमो
– संस्थापक : सागर दरयानी और बिनोद होमोगाई
– गृहनगर : कोलकाता, भारत
– वाह मोमो का revenue (वित्त वर्ष 2023) : ₹450 करोड़
– वाह मोमो की आधिकारिक वेबसाइट : https://wowmomo.com

हमें उम्मीद है कि इस लेख ने आपको वाह मोमो की सफलता की कहानी के बारे में जानकारी प्रदान की है, और स्टार्टअप से संबंधित अधिक कहानियों के लिए हमारी वेबसाइट से जुड़े रहें।

FAQ : आमतौर पर पूछे जाने वाले प्रश्न

1. वाह मोमो को किसने शुरू किया था?

ANS : वाह मोमो को कोलकाता, भारत राज्य में सागर दरयानी नाम के एक कॉलेज के छात्र द्वारा शुरू किया गया था।

2. वाह मोमो की फ्रेंचाइजी की लागत कितनी है?

ANS : मोमो की फ्रेंचाइजी ₹25,000 + GST से शुरू होती है।

3. वाह मोमो से कितनी कमाई हो जाती है ?

ANS : वाह मोमो से रोज की कमाई लगभग 1 लाख से 2 लाख के बिच की कमाई हो जाती है।

यह भी पढ़े : Success Story of Biggies Burger : इस व्यक्ति ने कैसे 2000 रुपए से बनाई गई 100 करोड़ की कंपनी जाने यहाँ।

यह भी पढ़े : Success Story Inshorts : तीन दोस्तों ने मिलकर केवल एक फेसबुक पेज की मदद से 1 बिलियन डॉलर की कंपनी बना दी.

Leave a Comment

भारत में जाने Vivo T3 launch date जाने फीचर्स और कीमत। दमदार फीचर्स के साथ Suzuki GSX 8S जल्द ही भारत में लॉन्च होगी। Best low budget wireless charging phones 2024 in india Hero Xoom 160 price in India and launch date & हीरो xoom 160 फीचर्स भारत की पहली 2-इन-1 कनवर्टिबल Hero Surge S32 EV वाहन हो रहा है लॉन्च। सैमसंग हेल्थ मॉनिटर अब आपके Galaxy Watch 6 पर ट्रैक करें अपनी सेहत। Infinix INBook Y4 Max के फीचर्स देखकर आप दंग रह जाएंगे। Tata Altroz EV को शानदार फीचर्स के साथ 2025 में लॉन्च किया जा रहा है. मनोज बाजपेयी की 5 बेस्ट वेब सीरीज 5 Best Gaming Laptop Under 35000